गूगल के Ranking Factors कितने हैं?-2024

अगर आप एक ब्लॉगर होंगे तो अपने गूगल रैंकिंग फैक्टर के बारे में जरूर सुना होगा जो की किसी भी ब्लॉग और वेबसाइट को करने के लिए बहुत जरूरी होता है लेकिन जो नए ब्लॉगर होते हैं उनको गूगल के Ranking Factors कितने हैं इसके बारे में पता नहीं होता है और अगर आप भी गूगल के Top Ranking Factors In Hindi के बारे में नहीं जानते हैं

गूगल के Ranking Factors कितने हैं

तो कोई बात नहीं आज आप इस पोस्ट के माध्यम से जान जायेंगे क्योंकि मैं इस पोस्ट में Google ke Kitane Ranking Factors hain सभी के बारे के बारे में विस्तार से बताया हूँ तो चलिए अब इस पोस्ट को शुरू करते हैं। 

गूगल के कुछ जरूरी Ranking Factors 

इस पोस्ट हम सबसे पहले गूगल के जरूरी Ranking Factors के बारे में जानेंगे क्योंकि इसको बिना समझे आप अपने ब्लॉग और को जल्दी रैंक नहीं कर सकते हैं तो अगर आप आने वाले समय यानि की 2024 में एक Successful Blogger बनाना चाहते हैं तो आपको इन Factors के बारे में जरूर जानना चाहिए जिससे आप अपने ब्लॉग और वेबसाइट को गूगल में रैंक कर सकते हैं। 

SSL Certificate 

गूगल के Most Important Ranking Factors In Hindi की List में सबसे पहले नंबर SSL Certificate होता है इसका पूरा नाम Secure Socket Layer होता है जिससे आपका ब्लॉग और वेबसाइट Secure रहता है जिस भी ब्लॉग और वेबसाइट में SSL Certificate Activate होता है उस ब्लॉग और वेबसाइट के URL से पहले Lock का Symbol होता है 

और उसका यूआरएल https से शुरू होता है और जिस ब्लॉग और वेबसाइट पर SSL Certificate Activate नहीं होता है उस ब्लॉग के यूआरएल से पहले लॉक का Symbol नहीं दिखता है और उसका यूआरएल भी http से शुरू होता है 

जिस ब्लॉग और वेबसाइट पर SSL Certificate Activate नहीं होता है उस ब्लॉग और वेबसाइट पर Search Engien और User दोनों का trust उस ब्लॉग और वेबसाइट पर नहीं होता है जिसके कारण वो ब्लॉग और वेबसाइट गूगल में रैंक नहीं करता है  तो अगर आप अपने ब्लॉग और वेबसाइट को गूगल में जल्दी से रैंक करना चाहते हैं 

तो आप अपने ब्लॉग और वेबसाइट में SSL Certificate जरूर Activate करें जिससे आपका ब्लॉग और वेबसाइट सिक्योर भी रहेगा और गूगल में रैंक भी करेगा Hosting खरीदते हैं समय बहुत सी Hosting Company SSL Certificate फ्री में देते हैं जिसे आप बहुत आसानी से अपने ब्लॉग में Activate कर सकते हैं। 

User Experience

गूगल के Ranking Factors में दूसरे नंबर पर आता यही User Experience यानि जो यूजर आपके ब्लॉग और वेबसाइट पर आ रहा है उसका Experience कैसा है वो आपके ब्लॉग कितना देर तक रुक रहा है यूजर आपकी पूरा पोस्ट पढ़ रहा है की नहीं क्योंकि गूगल यूजर से Ralative बहुत अच्छा अच्छा Updates लता रहता है 

ताकि यूजर को उसके सर्च के अनुसार अनुसार अच्छा से अच्छा कंटेंट पढ़ सके तो अगर आप User के अनुसार यानि की User Friendly कंटेंट नहीं लिखते हैं तो यूजर आपके ब्लॉग और वेबसाइट पर ज्यादा समय तक नहीं रुकता है जिससे आपके ब्लॉग एक Bouns Rate बढ़ता है 

और ब्लॉग और वेबसाइट का Bouns Rate बढ़ाना ब्लॉग और वेबसाइट के लिए हानिकारक होता है जिससे आपके ब्लॉग की रैंकिंग डाउन हो सकती है तो अगर आप अपने ब्लॉग के हमेशा टॉप पर रैंक करना चाहते हैं तो आप User के इंटेंट के अनुसार कंटेंट लिखें जिससे कोई भी यूजर आपकी पोस्ट को पूरा पढ़ेगा 

और आपके ब्लॉग पर ज्यादा समय तक रुकेगा तो आपके ब्लॉग और वेबसाइट का Bouns Rate कम होगा जिससे आपके ब्लॉग और वेबसाइट की Ranking बढ़ेगी तो अगर आप गूगल के टॉप रैंकिंग फैक्टर्स की खोज कर रहे हैं तो User Experience पर ध्यान जरूर दें। 

Content Quality

ब्लॉग को टॉप पर रैंक करने के लिए आपको सबसे पहले अपने कंटेंट की क्वालिटी पर ध्यान देना होगा जिससे क्योंकि नए ब्लॉगर अपने कंटेंट की quality पर ध्यान नहीं देते हैं और बहुत ज्यादा low Quality Content अपने ब्लॉग पर पोस्ट कर देते हैं जिसके कारण उनका ब्लॉग रैंक नहीं करता है तो इसलिए आप ऐसी गलती न करें

आप भले ही कम पोस्ट लिखें लेकिन जो भी पोस्ट लिखें उस पोस्ट की Quality अच्छी होनी चाहिये यानि की जिस टॉपिक पर ज्यादा कंटेंट न लिखा गया हो उस टॉपिक पर अपना कंटेंट लिखें क्योंकि जिस टॉपिक पर ज्यादा कंटेंट गूगल के पास नहीं रहेगा 

और अगर आप उसी टॉपिक पर कंटेंट लिखते हैं तो गूगल उस कंटेंट को बहुत जल्दी ही Search में Rank करेगा और ध्यान रहे की आपको Updates Content लिखना है जैसे मान लीजिये अगर आप Blogging Niche पर अपना ब्लॉग बनाये हैं तो अब Blogging की Field में पहले से ज्यादा बदलाव हो गया है 

तो आप अपने ब्लॉग में आज समय जिस प्रकार से Blogging Success मिल रही है उस प्रकार से कंटेंट बनायें जिससे आपके ब्लॉग को Value मिलेगी और आपके ब्लॉग पर Low Value Content का Error नहीं आएगा। 

Backlinks

जिस प्रकार से मैं Top Google Ranking Factors In Hindi की लिस्ट में ऊपर बताया हूँ उसी प्रकार से Backlinks भी गूगल का Ranking Factors है Backlinks के बिना तो आप अपने ब्लॉग को रैंक कर सकते हैं लेकिन इस प्रकार से आपको अपने ब्लॉग को रैंक कराने में बहुत ज्यादा समय लग सकता है 

तो अगर आप जल्दी ही अपने ब्लॉग को रैंक करना चाहते हैं और अपने ब्लॉग को पॉपुलर बनाना चाहते हैं तो आप अपने ब्लॉग के लिए Backlinks जरूर बनाये लेकिन ध्यान रहे की आपको High Quality Backlinks बनानी है अगर आप Low Quality Backlinks बनाते हैं 

तो आपके ब्लॉग की Ranking डाउन भी हो सकती है और आपके ब्लॉग और वेबसाइट का Spam Score भी बढ़ सकता है High Backlinks बनाने के लिए आप अपने Niche से Related High DA और PA वाली वेबसाइट पर Backlinks बनाये जिससे आपके ब्लॉग की Ranking भी बढ़ेगी और आपके ब्लॉग एक DA(Domain Authority) भी बढ़ेगी 

बैकलिंक्स के बारे में पूरी जानकारी लेने के लिए आप मेरी इस पोस्ट बैकलिंक्स कैसे बनाये को पढ़ सकते हैं। 

Relevancy

अब इसके आपको कंटेंट की Relevancy पर ध्यान देना है मतलब आपको अपनी पोस्ट के Focus Keyword के अनुसार कंटेंट लिखना है जैसे मान लीजिये आप (SEO क्या होता है) इस कीवर्ड पर पोस्ट लिख रहे हैं तो SEO से Related पूरी जानकारी देना है जिससे यूजर SEO के बारे में सर्च कर रहा है तो वो SEO के बारे में पूरी जानकारी ले सके 

इस जिससे यूजर को आपका कंटेंट अच्छा लगता है तो यूजर आपके पोस्ट पर कोई अच्छा सा कमेंट करेगा तो जिससे गूगल को लगेगा तो आपके ब्लॉग अच्छी पोस्ट लिखी जा रही है जिससे गूगल आपके ब्लॉग को टॉप पर रैंक करेगा। 

गूगल के Ranking Factors कितने हैं?

अब तक जितने भी Ranking Factors के बारे में मैं ऊपर बताया हूँ वो गूगल के महत्वपूर्ण रैंकिंग फैक्टर्स थे लेकिन इसके अलावा भी बहुत Ranking Factors हैं जिसके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए क्योंकि जब आपको इन सभी Factors के बारे में जानकारी रहेगी तभी आप अपने ब्लॉग को रैंक कर सकते हैं 

जिससे आप अपने ब्लॉग को Search के अनुसार Proper Optimize कर पायेंगे और आपके ब्लॉग और वेबसाइट की ट्रैफिक कभी भी डाउन नहीं होगा। 

Domain Age

Domain Age भी एक Ranking Factor होता है क्योंकि अब कोई भी व्यक्ति अपना नया ब्लॉग बनाता है तो गूगल को नए ब्लॉग पर ट्रस्ट नहीं होता है जिसके कारण गूगल नए ब्लॉग को जल्दी रैंक नहीं करता है लेकिन जब आपका धीरे धीरे पुराना होने लगेगा तो गूगल आपके ब्लॉग पर ट्रस्ट करने लगेगा और आपके ब्लॉग की Ranking बढ़ने लगेगी 

गूगल के Ranking फैक्टर के अनुसार किसी भी ब्लॉग की Domain Age तीन से पांच महीने तक होनी चाहिए लेकिन अगर आपको Keyword रिसर्च करने आता है तो आप बहुत कम समय में अपने ब्लॉग को टॉप पर रैंक कर सकते हैं क्योंकि आजकल गूगल Domain Age पर नहीं बल्कि कंटेंट पर ध्यान दे रहा है अगर आपके ब्लॉग का कंटेंट अच्छा है तो आप अपने ब्लॉग को टॉप पर रैंक कर सकते हैं। 

Website Loading Speed

किसी भी ब्लॉग और वेबसाइट को रैंक करने के लिए Website की Loading Speed भी मायने रखती है रिसर्च के अनुसार पता चला है अगर कोई भी ब्लॉग और वेबसाइट 5 seconds से ज्यादा समय में Load होती है तो यूजर उस ब्लॉग को छोड़ कर दूसरे ब्लॉग पर चला जायेगा जिससे पहले वाले ब्लॉग का bouns rate बढ़ जायेगा 

और उस ब्लॉग की रैंकिंग भी डाउन हो जाएगी क्योंकि जितना इम्पोर्टेन्ट आपके ब्लॉग का SEO करना होता है उतना ही Important ब्लॉग और वेबसाइट की Loading Speed भी होती है जितना Fast आपका ब्लॉग Open होगा उतना ज्यादा आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आएगा। 

Responsive

गूगल के रैंकिंग फैक्टर में एक ये भी है की आप अपने ब्लॉग और वेबसाइट को Responsive बनाये क्योंकि कुछ वेबसाइट ऐसी होती हैं जो कंप्यूटर में सही Open होती हैं लेकिन Mobile में सही से Open नहीं होती है और कुछ वेबसाइट मोबाइल में सही से ओपन होती हैं तो कंप्यूटर में सही से ओपन नहीं होती है 

तो ऐसे में आप अपने ब्लॉग और वेबसाइट को Responsive बनाये जिससे आपका ब्लॉग सभी Device में अच्छे से खुले क्योंकि जब आपका ब्लॉग और वेबसाइट Responsive रहेगा तो कोई भी यूजर किसी भी Device में आपका ब्लॉग सर्च करेगा तो सभी Device में आपका ब्लॉग Open होगा 

जिससे सभी डिवाइस से आपके ब्लॉग और वेबसाइट पर ट्रैफिक आएगा तो इस प्रकार से आप अपने ब्लॉग पर बहुत सारा ट्रैफिक ला सकते हैं। 

Internal & External Links

अब गूगल के कितने Ranking Factors हैं के इस पोस्ट में आगे बढ़ते हैं जिसमे Internal और External लिंक है जो की SEO और Ranking के लिए बहुत जरूरी होता है आप जो पोस्ट अपने ब्लॉग और वेबसाइट पर लिखते हैं उसका SEO Improve करने के लिए आपको उस पोस्ट में External और Internal लिंक जरूर करें 

जो की Rank Math या बाकी के SEO Plugins भी Suggest करते हैं इसको करने के बाद आपका ब्लॉग पोस्ट का SEO Score बढ़ता है और आपकी पोस्ट टॉप पर रैंक कराती है। 

Keyword Optimization

अब Keyword Optimization की तरफ चलते हैं किसी ब्लॉग पोस्ट को रैंक करने के लिए सबसे पहले आपको उसमे आपको Keyword को बेहतर तरीके से Optimize करना पड़ेगा अपने कंटेंट में आप Focus Keyword के साथ साथ LSI Keyword को भी डालें जिससे उससे Related भी कोई Search करता है तो भी पोस्ट रैंक करेगी इस प्रकार से आप Focus Keyword के साथ साथ उससे Related Keyword पर भी रैंक कर सकते हैं। 

Meta Description

अब इसके बाद आप Meta Description को बेहतर तरीके से Optimize करें क्योंकि SERP(Search Engien Result Page) में आपको किसी भी पोस्ट का टाइटल कर Meta Description दिखता है तो अगर आप Meta Description को आप यूजर के इंटेंट के अनुसार Optimize करते हैं Rank करने का चांस बढ़ जाता है। 

URL

ऊपर मैं आपको बताया हूँ SERP में आपके पोस्ट का यूआरएल दिखता है इसलिए आपको अपनी पोस्ट के यूआरएल को भी Optimize करना है इसके आप लिए आप ब्लॉग पोस्ट के यूआरएल में फोकस कीवर्ड को जरूर से Add करें जिससे ब्लॉग पोस्ट का यूआरएल SEO Friendly होगा। 

इन Post को भी पढ़ें 👇👇👇👇👇👇👇

FAQ(Top Google Ranking Factors In Hindi)

रैंक करने के लिए Domain Age कितनी होनी चाहिए?

किसी भी ब्लॉग को रैंक करने के लिए उसकी Domain Age तीन से पांच महीने तक होनी चाहिए जिसके बाद गूगल को आपके ब्लॉग पर ट्रस्ट होने लगता है और आपका ब्लॉग रैंक करता है। 

गूगल के कितने रैंकिंग फैक्टर्स हैं?

वैसे तो गूगल के 200 से ज्यादा Ranking Factors हैं लेकिन अभी तक इन सभी के बारे में गूगल पूर्ण रूप से नहीं बताया है लेकिन गूगल के महत्वपूर्ण रैंकिंग फैक्टर्स हैं जिसके बारे में मैं इस पोस्ट में आपको बताया हूँ। 

निष्कर्ष:(गूगल के Ranking Factors कितने हैं?

इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद आपको गूगल के Ranking Factors कितने हैं इसके बारे में तो पता चल गया होगा जिसमे मैं आपको गूगल के कुछ जरूरी फैक्टर्स के बारे के बारे में भी बताया हूँ जो किसी ब्लॉग और वेबसाइट को रैंक करने के लिए बहुत जरूरी होता है और सभी ब्लॉगर को इसके को इसके बारे में पता भी होना चाहिए 

अगर आपको लगता है की इस पोस्ट में कुछ छूट गया है या इसमें कुछ सुधार करने की जरूरत है या फिर तो कमेंट में जरूर बताएं और  अगर इस पोस्ट Top Google Ranking Factors In Hindi से आपको कुछ सीखने मिला है तो आप इस पोस्ट को अपने सभी सोशल मीडिया साइट पर शेयर जरूर करें। 

दोस्तों मैं इस Blog का Founder और Athour हूँ इस ब्लॉग को मैंने 2023 में शुरू किया था मुझे इंटरनेट से Related जैसे Blogging, SEO,Digital Marketingऔर भी नयी नयी चीजों के बारे सीखना और सीखना अच्छा लगता है।

Leave a Comment